शनिवार, 3 अप्रैल 2010

ऐसा भी होता है!

शुक्रवार की दोपहर को न जाने कितने मकानों के मालिक रामविलास पासवान के दिल्ली स्थित एक मकान के पिछले हिस्से में आग लगी और दो कारें जल गयीं, ये समाचार लगभग सभी चैनलों में पहले ब्रेकिंग बाद में विस्तार के साथ चला. ठीक उसी दोपहरी को छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में भटचौरा नाम के एक गाँव में आग लगी ११ पैरावट और ३१ झोपड़ियां जल गईं, याने ३१ परिवार एक ही पल में छतविहीन हो गए, अनेकों के पास सिर्फ उतना ही बचा जितना कपड़ा वो पहने हुए थे. बाकी बर्तन-भांडा, कपड़ा-लत्ता, दानापानी, जमापूंजी और खटिया बिस्तर सब जल के खाक हो गया. पत्रकारों और संवाददाताओं को समय पर खबर लग गयी, लेकिन बड़े चैनलों को लिए ये कोई खबर नहीं थी. इति.

3 टिप्‍पणियां:

  1. ...बडे चैनल वाले बडे लोगों को हाईलाईट करते हैं छोटे लोगों पे तो उनकी नजर ही नहीं पडती है... "ऎसा भी होता है" !!!!!

    उत्तर देंहटाएं
  2. wah wah behetarien...

    log on http://doctornaresh.blogspot.com/
    m sure u will like it !!!

    उत्तर देंहटाएं
  3. yahi to apani desh ki vidambana hey.... dilli ki neta, insaan hey aur baaki baad me.

    उत्तर देंहटाएं